May 27, 2022
विद्युत कंपनियों के अभियंताओं एवं कार्मिकों का 3 दिवसीय मंथन जबलपुर में

विद्युत कंपनियों के अभियंताओं एवं कार्मिकों का 3 दिवसीय मंथन जबलपुर में

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर 5 मई को करेंगे शुभारंभ

भोपाल। मध्यप्रदेश की समस्त विद्युत कंपनियों के अभियंताओं एवं कार्मिकों के आत्म-निरीक्षण पर केन्द्रित तीन दिवसीय ‘मंथन-2022’ का आयोजन जबलपुर के तरंग प्रेक्षागृह में 5 से 7 मई तक किया गया है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर मंथन-2022 का उद्घाटन 5 मई को प्रात: 10 बजे करेंगे और मैदानी अमले से भी संवाद करेंगे। प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे, सचिव ऊर्जा एवं एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक विवेक पोरवाल, विद्युत कंपनियों के प्रबंध संचालक, देश के विद्युत क्षेत्र के विशेषज्ञ, प्रदेश की 6 विद्युत कंपनियों के मुख्य अभियंता से ले कर तकनीकी स्तर तक के कार्मिक हिस्सा लेंगे। मध्यप्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को मंथन-2022 के लिये नोडल एजेंसी बनाया गया है।
क्या है मंथन-2022
नए वित्तीय वर्ष की शुरुआत के साथ मंथन-2022 ऊर्जा क्षेत्र में विश्व स्तर पर अपनाई गई सर्वोत्तम प्रथाओं के बारे में क्षेत्र के विशेषज्ञों से आत्म-निरीक्षण करने और सीखने का एक अनूठा अवसर प्रदान करेगा। ऊर्जा क्षेत्र के सफल परिवर्तन में बाधक तत्वों से निपटने के तरीके पर विचार-विमर्श और आपसी संवाद करने का अवसर प्रदान करेगा। ‘मंथन-2022’ का उद्देश्य ऊर्जा संक्रमण या परिवर्तन की रणनीति बनाने और वित्तीय स्थिरता हासिल करने पर ध्यान केंद्रित करना है। तीन दिनों तक प्रदेश की विद्युत कंपनियों के अभियंता और कार्मिक आत्म-निरीक्षण के दौरान ऊर्जा विशेषज्ञों, अकादमिक एवं प्रेक्टिसनर और आपस में स्वयं सीख कर-‘क्या हासिल कर सकते हैं’ जैसे मुद्दे पर चिंतन करेंगे। ‘मंथन-2022’ का शीर्ष उद्देश्य हानियों को कम करना और उपभोक्ताओं की शिकायतों को कम करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *