May 27, 2022
प्रदेश की लाड़ली लक्ष्मियाँ करेंगी वाघा बार्डर का भ्रमण

प्रदेश की लाड़ली लक्ष्मियाँ करेंगी वाघा बार्डर का भ्रमण

2 मई को पहली यात्रा होगी प्रारंभ
माँ तुझे प्रणाम योजना पुन: हुई शुरू

ग्वालियर । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पहल पर प्रदेश में “माँ तुझे प्रणाम” योजना को पुन: शुरू किया गया है। आगामी 2 मई को योजना में 196 लाड़ली लक्ष्मी बालिकाओं को अंतर्राष्ट्रीय सीमा okघा-हुसैनीवाला (पंजाब) का भ्रमण कराया जाएगा। वर्ष 2013 से प्रदेश में शुरू हुई इस योजना में पहली बार प्रदेश की लाड़ली लक्ष्मी बालिकाएँ वाघा बार्डर जा रही हैं, जो 2 मई को अपरान्ह 3:30 बजे अमृतसर दादर एक्सप्रेस से रवाना होंगी।
खेल एवं युवा कल्याण विभाग की ‘माँ तुझे प्रणाम’ योजना में भोपाल संभाग से 20 लाड़ली लक्ष्मियाँ, इंदौर संभाग से 31, ग्वालियर संभाग से 15, उज्जैन संभाग से 26, नर्मदापुरम संभाग से 11, शहडोल संभाग से 15, रीवा संभाग से 12, चम्बल संभाग से 9, सागर संभाग से 26, जबलपुर संभाग से 31 बालिकाओं को वाघा-हुसैनीवाला (पंजाब) के भ्रमण पर जायेaगी।
योजना में अब तक लगभग 12 हजार 672 युवाओं को लेह-लद्दाख, कारगिल-द्रास, आर.एस.पुरा, वाघा-हुसैनीवाला, तानोत माता का मंदिर, लोगेंवाल, कोच्चि, बीकानेर, बाड़मेर, नाथूराम-दर्रा, पेट्रापोल, तुरा, जयगाँव, अडंमान निकोबार एवं कन्या कुमारी की अनुभव यात्रा कराई गई है। खेल एवं युवा कल्याण विभाग की इस योजना की चयनित बालिकाओं को गृह निवास यात्रा का किराया, दैनिक भत्ता, आवास, भोजन, स्थानीय यातायात व्यवस्था, रेल आरक्षण व्यवस्था, ट्रेक सूट, टी-शर्ट और किट बैग उपलब्ध कराए जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *