May 27, 2022
दतिया के विकास के रथ को और गति प्रदान की जायेगी –  चौहान

दतिया के विकास के रथ को और गति प्रदान की जायेगी – चौहान

रथ यात्रा में साथ चले शिवराज सिंह, डॉ मिश्रा, वसुंधराराजे

दतिया गौरव दिवस पर यात्रा निकालने का कार्य ऐतिहासिक है – पूर्व मुख्यमंत्री सिंधिया

दतिया में रथ यात्रा निकालने की परंपरा हमेशा जारी रहना चाहिए – डॉ. मिश्र

माँ पीताम्बरा माई के प्राकट्य उत्सव एवं दतिया गौरव दिवस पर निकाली गई भव्य रथ यात्रा

ग्वालियर । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने माँ पीताम्बरा माई के प्राकट्य उत्सव एवं दतिया गौरव दिवस के अवसर पर कहा कि जो रथ यात्रा निकालने का ऐतिहासिक काम किया गया है उसकी जितनी प्रशंसा की जाए उतनी कम है। इस रथ यात्रा को और भव्य रूप प्रदान किया जायेगा ताकि देशभर में दतिया की ख्याति बढ़ सके। रथ यात्रा के साथ-साथ दतिया के विकास रथ को भी और गति प्रदान की जायेगीC मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार को माँ पीताम्बरा माई के प्राकट्य उत्सव एवं दतिया गौरव दिवस के अवसर पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया ने की। विशेष अतिथि के रूप में गृह, जेल एवं विधि विधायी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र, लोक निर्माण विभाग के राज्य मंत्री एवं दतिया जिले के प्रभारी मंत्री सुरेश धाकड़, क्षेत्रीय सांसद श्रीमती संध्या राय, विधायक रक्षा सिरौनिया एवं जनप्रतिनिधि व बड़ी संख्या में दतिया के नागरिकगण उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि माँ पीताम्बरा माई की कृपा एवं गुरूजी के आशीर्वाद और गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा के प्रयासों से दतिया में विकास का नया इतिहास लिखा गया है। ग्वालियर एवं दतिया रोजगार और उद्योग के क्षेत्र में नया हब बनेंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि दतिया के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जायेगी। दतिया में मेडीकल कॉलेज के साथ ही विकास के अनेक कार्य हुए हैं। आने वाले दिनों में यहाँ पर बड़े हवाईजहाज उतरेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा है कि मध्यप्रदेश में अब संस्कृत विषय के विद्यार्थियों को पाँच हजार रूपए की छात्रवृत्ति एवं शासकीय मंदिरों के पुजारियों को पाँच हजार रूपए का मानदेय दिया जायेगा। इसके साथ ही भगवान परशुराम के जीवन चरित्र को पाठ्य पुस्तक में शामिल किया जायेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने फैसला किया है कि हर शहर अपना गौरव दिवस मनाए। दतिया जिले में माँ पीताम्बरा माई के प्राकट्य उत्सव को गौरव दिवस के रूप में मनाने का जो निर्णय लिया गया है वह अद्भुत है। नगर के हर नागरिक को अपने शहर के विकास में जरूर भागीदार बनना चाहिए। सभी नागरिक संकल्प लें कि वे अपने शहर के विकास में जो भी योगदान दे सकेंगे, जरूर देंगे।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री एवं माँ पीताम्बरा ट्रस्ट की अध्यक्षा वसुंधरा राजे सिंधिया ने कहा कि माँ पीताम्बरा माई के प्राकट्य उत्सव के अवसर पर रथ यात्रा निकालने का जो कार्य प्रारंभ हुआ है वह ऐतिहासिक है। इस गौरवशाली परंपरा से अब हर वर्ष माई की यात्रा निकलेगी और माई दतियावासियों पर अपना आशीष प्रदान करेगी।
पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया ने कहा कि माँ पीताम्बरा की कृपा और गुरूजी के आशीर्वाद से दतिया निरंतर प्रगति के मार्ग पर अग्रसर रहेगा। कार्यक्रम के प्रारंभ में प्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि दतिया में आज माँ पीताम्बरा माई के प्राकट्य उत्सव के अवसर पर रथ यात्रा निकालने की जो नई परंपरा प्रारंभ हुई है, यह परंपरा हमेशा जारी रहना चाहिए।
गृह मंत्री डॉ.मिश्र ने कहा कि जब भी दतिया के विकास के लिये माँग की है तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सहर्ष स्वीकार करते हुए दतियावासियों को सौगात दी है।

मुख्यमंत्री ने माँ पीताम्बरा की पूजा-अर्चना की

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दतिया में माँ पीताम्बरा मंदिर पहुँचकर पूजा-अर्चना की। मुख्यमंत्री ने माँ पीताम्बरा माई से देश के विकास और उन्नति की कामना की।

मुख्यमंत्री पीताम्बरा माई रथ यात्रा के साथ चले

मुख्यमंत्री माँ पीताम्बरा माई के प्राकट्य उत्सव के अवसर पर निकाली गई रथ यात्रा में शामिल हुए। मंदिर के बाहर से शहर के प्रमुख मार्गों से होकर वापस मंदिर पहुँचने वाली यात्रा में राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे सिंधिया, गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र, प्रभारी मंत्री सुरेश धाकड़ सहित जनप्रतिनिधि शामिल हुए। रथ यात्रा के साथ हजारों की संख्या में नागरिकों ने माँ पीताम्बरा माई के जयघोष के साथ उत्साह और उमंग से अपनी भागीदारी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *